DesiFap logo
July 19 2023, 13:03:35
21m44s read

पिछला भाग पढ़े:- बीवी को चुदवा कर खुश किया

सुमन उन दोनों से बहुत खुश थी। हम दोनों जैसे पहले चुदाई का मजा लेते थे, वैसे ही फिर से लेने लगे। सुमन मेरे घर से ऑफिस जाने के बाद सिर्फ एक नाईटी में ही रहती बिना ब्रा पैंटी के।

एक दिन सुबह सुमन नहाने गई हुई थी, तो उसके फोन पर मैसेज आया। मैंने जब मैसेज पढ़ा, तो उन दोनों में से एक का मेसेज आया था। उसका नाम शमशेर सिंह से सेव किया था सुमन ने। मैं उससे सुमन बन कर बात करने लगा।

शमशेर: जानेमन कैसी है तू?

सुमन: अच्छी हूं, आप कैसे हो?

शमशेर: साली कुतिया, जब तक तुझे चोद ना लूं, तब तक तड़प रहा हूं।

सुमन: बहुत जल्दी ही मैं भी बहुत तड़प रही हूं उस चुदाई के लिए।

सुमन अब नहा कर बाहर आ जाती है, और मुझे फोन पर चैट करते हुए देख कर बोलती है-

सुमन: क्या कर रहे हो मेरे फोन पर?

मैं सुमन को देख कर बोलता हूं: तेरे आशिक से चैट कर रहा हूं।

सुमन: मैं आपको बताने वाली थी, कि वो दोनों मुझे फिर से मिलने बुला रहे हैं। पर सोचा बाद में बता दूंगी।

मैंने सुमन को बोला: जब भी मिलना हो मुझे बता देना। मुझे भी तेरी चुदाई देख कर मजा लेना है।

सुमन ने हां में सर हिला दिया। फिर मैं ऑफिस चला गया, और शाम को घर आया तो सुमन को नंगी करके चुदाई का मजा लिया।

फिर सुमन मुझे बोली: वो दोनों मुझे मिलने बुला रहे हैं।

तो मैं सुमन को बोल पड़ा: मुझे भी तेरी चुदाई होते हुए देखनी है।

सुमन: पर वो दोनों पता नहीं मेरी चुदाई करेंगे।

मेरे मुँह से एक-दम निकल गया: उनको घर ही बुला लो। मैं भी तेरी चुदाई देख लूंगा। यही मेरी बहुत बड़ी गलती हो गई।

सुमन ने उनको घर का पता दे दिया, और दूसरे दिन उनको आने का बोल दिया।

फिर सुमन ने मुझे बोल दिया: वो कल सुबह 10 बजे आ रहे हैं। आप कहीं छिप जाना और सब देखना।

सुमन सुबह नहा कर आ गई। मैंने सुमन को पकड़ कर वही उसकी चुदाई कर दी। सुमन मुझे रोकती रही, पर मैं उसकी चुदाई करके ही माना। सुमन ने चूत बहुत अच्छे से साफ की थी। अब सुमन ने फिर से नहा कर नाईटी पहन ली। मैंने देखा सुमन ने ब्रा पैंटी पहन रखी थी। तो मैंने ब्रा और पैंटी निकाल दी। सुमन अब सिर्फ नाईटी में रह गई।

10 बजे दरवाजे पर किसी ने दस्तक दी। मैं छुप गया, और सुमन ने दरवाजा खोला। तो एक-दम से 3 आदमी अंदर आ गए, और दरवाजा बंद कर दिया।

इस बार उनके साथ एक और आदमी था। शमशेर ने दोनों का नाम सुमन को बताया सुरजीत सिंह और रहमत अली। सुरजीत सिंह पहले भी सुमन को चुदाई का सुख दे चुका था। मैं भी थोड़ा डर गया, कि सब के लंड कैसे ले सकेगी सुमन।

शमशेर सिंह सुमन को पकड़ कर उसके होंठ चूसने लग गया। होंठ चूसते हुए सुमन की गांड दबाने लगा। शमशेर ने सुमन की नाईटी ऊपर कर दी, जिससे सुमन की नंगी गांड सामने आ गई। सुरजीत ने अपना मुंह सुमन की गांड में लगा दिया, और रहमत सुमन की चूत को चाटने लग गया।

शमशेर ने सुमन को पूरी नंगी कर दिया, और उसका मुंह सुमन के चूचों को पीने लगा। सब सुमन के जिस्म को चाटने और चूमने में लग गए। सुमन के मुँह से सिसकारियां निकल रही थी। काफी टाइम तक ऐसा करने से सुमन की चूत ने पानी छोड़ दिया। रहमत पुरा पानी चाट कर पी गया।

अब सब अपने कपड़े उतार देते हैं। रहमत का लंड शमशेर और सुरजीत से बड़ा और मोटा था। सुमन एक रंडी की तरह नीचे बैठ गई, और लंड को बारी-बारी मुंह में लेकर चूसने लगी। सुमन मुँह में और दोनों हाथों में लंड लेकर मजा ले रही थी।

सब के लंड चूसने के बाद सब ने सुमन को उठा कर बैड पर डाल दिया। शमशेर बैड पर लेट गया, और सुमन को शमशेर के लंड के ऊपर बैठा दिया। शमशेर का लंड सुमन की चूत में चला गया।

रहमत सुमन की गांड पर आ गया, और सुरजीत ने लंड सुमन के मुँह में डाल दिया। रहमत ने सुमन की गांड पर लंड सेट किया, और सुमन को कमर से पकड़ कर एक जोर का झटका मारा। लंड सुमन की गांड चीरता हुआ अन्दर चला गया।

सुमन के मुँह में लंड होने के कारण सुमन की चीख दब गई, पर उसकी आँख से आंसू निकल आए। सुमन को बहुत दर्द हुआ, पर सब तो सुमन को रंडी समझ कर मजा ले रहे थे। अब सुमन की चूत गांड मुँह सब में लंड अंदर जा रहे थे।

रहमत का लंड मोटा और लम्बा होने से सुमन को बहुत दर्द हो रहा था। आधे घंटे के बाद सब सुमन के अंदर झड़ गए। सुमन ने सभी के लंड मुँह में लेकर साफ कर दिये। सुमन के साथ सब बाथरूम चले गए काफी देर बाद सब सुमन को उठा कर बाहर लेकर आ गए।

सब सुमन को दबोच कर बैड पर लेट गए। फिर सुमन सब के लंड बारी-बारी पकड़‌कर हिला रही थी। सब से पहले रहमत का लंड पूरा खड़ा हो गया। रहमत ने लंड सुमन के मुँह में डाल दिया। सुमन लंड चूसने लग गई।

फिर रहमत ने लंड सुमन के मुँह से निकाल लिया, और सुमन की चूत पर थूक फेंका और लंड चूत के मुँह पर लगा दिया। शमशेर ने लंड सुमन के मुँह में डाल दिया। अब रहमत ने एक जोर का धक्का मारा, और आधा लंड सुमन की चूत के अंदर चला गया।

लंड जाते ही सुमन तड़प उठी, पर किसी को कोई असर नहीं हुआ। फिर से रहमत ने एक और जोर का झटका मारा, और पूरा लंड सुमन की चूत के अंदर चला गया। सुमन के मुँह से चीख निकल गई, और आँखों से आंसू निकल गए।

रहमत सुमन को एक रंडी की तरह चोदता रहा। सुमन का जब थोड़ा कम हुआ, तो सुमन भी उसका साथ देने लगी। थोड़ी देर बाद रहमत ने सुमन को अपने लंड के ऊपर कर लिया, और शमशेर सुमन की गांड में लंड डाल कर चोदने लगा।

सब ने सुमन की शाम तक अच्छे से चुदाई की। सुमन की हालत बहुत खराब हो गई थी सबसे चुदने के बाद। सब ने चुदाई के बाद सुमन के ऊपर पैसे फेंके, और कपड़े पहन कर चले गए।

मैं उन सब के जाने के बाद सुमन के पास आ गया। सुमन की चूत पुरी फूल चुकी थी चुदाई के बाद। मैं सुमन को उठा कर बाथरूम ले गया, वहां सुमन की चूत को गर्म पानी से अच्छे से साफ किया। फिर सुमन को नहला कर बैड पर सुला दिया।

अब मेरा वो घर घर नहीं रहा। जब भी उनका मन करता है,‌ सुमन को चोद कर चले जाते‌‌ है। अब मैं और सुमन भी उन सबसे तंग हो गए, और हमने वो घर बदल दिया।

कैसी लगी मेरी बीवी की असली चुदाई की कहानी मुझे जरूर बताना। [email protected]

अब हम दोनों बहुत ख़ुशी से अपनी चुदाई का मजा ले रहे हैं। पर मुझे अभी भी अपनी बीवी की चुदाई का मजा देखना है और मैं और सुमन अब नए लंड की तलाश में हमेशा रहते है। आपको मेरी बीवी के साथ मजा करना है, तो मुझे मैसेज करे मेरी बीवी को जो पसंद आया, तो चुदाई का मजा पूरा देगी।

amung